द स्टेट न्यूज़ हिंदी

सच दिखाते हैं हम……..

अंतरराष्ट्रीय

F-16 Fighter Jet: नाटो की बैठक के बाद बड़ा फैसला! यूक्रेन को भेजे गए F-16 फायटर जेट, अमेरिका बोला- अब टिक नहीं पाएंगे पुतिन

F-16 Fighter Jet: रूसी हमलों का जवाब देने के लिए यूक्रेन लंबे समय से एफ-16 फाइटर जेट की मांग रहा है. नाटों के सदस्यों ने फाइटर जेट के अलावा यूक्रेन को पांच रडार सिस्टम भी भेजे हैं.

F-16 Fighter Jet: नाटो की बैठक के बाद बड़ा फैसला! यूक्रेन को भेजे गए F-16 फायटर जेट, अमेरिका बोला- अब टिक नहीं पाएंगे पुतिन

F-16 Fighter Jet

F-16 Fighter Jet: रूस और यूक्रेन के बीच जारी जंग के बीच नाटो के सदस्यों ने घोषणा की है कि उन्होंने यूक्रेन को एफ-16 फाइटर जेट भेजना शुरू कर दिया है. वाशिंगटन में नाटो शिखर सम्मेलन के बाद अमेरिकी विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकन ने बुधवार (10 जुलाई 2024) को कहा कि अमेरिका निर्मित एफ-16 फाइटर प्लेन की पहली खेप डेनमार्क और नीदरलैंड से यूक्रेन भेजी जा रही है. उन्होंने बताया कि बहुत जल्द यूक्रेन के आसमान में एफ-16 उड़ान भरने वाला है.

यूक्रेन के आसमान में उड़ेगा F-16 विमान

F-16 Fighter Jet

रॉयटर्स की रिपोर्ट के मुताबिक अमेरिकी विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकन ने बताया कि यूक्रेन इस बार गर्मी के मौसम से खुद को रूसी आक्रमण से प्रभावी ढंग से बचा सकता है. रूस की ओर से किए जा रहे हमलों का जवाब देने के लिए यूक्रेन लंबे समय से एफ-16 फाइटर जेट की मांग रहा है. अमेरिका राष्ट्रपति जो बाइडेन ने अगस्त 2023 में इन विमानों को यूक्रेन को देने पर सहमति जताते हुए मंजूरी दी थी.

‘अब नाटो के यूक्रेन ने भेजे F-16 विमान’

अमेरिकी विदेश मंत्री ने चुनौती देते हुए कहा कि यूक्रेन को भेजा जा रहा यह फाइटर जेट रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के लिए एक कड़ा मैसेज होना चाहिए. उन्होंने कहा, “रूसी राष्ट्रपति का ध्यान इस बात पर केंद्रित हो गया कि वह यूक्रेन से युद्ध में अब अधिक समय तक नहीं टिक पाएंगे.” यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोडिमिर जेलेंस्की ने पिछले सप्ताह कहा था कि वह अपनी एयफोर्स की क्षमता को दोगुना करना चाहते हैं. जेलेंस्की ने कहा था कि उन्हें अपने देश की सुरक्षा को लिए कम से कम सात और रडार सिस्टम का आवश्यकता होगी.

रडार सिस्टम भी भेजेगा नाटो सदस्य

F-16 Fighter Jet

नाटो सदस्यों ने यूक्रेन की मदद के लिए पांच रडार सिस्टम भेजने की भी घोषणा की है. नाटो सदस्यों की ओर से जारी बयान कर कहा गया कि हम यूक्रेन की हवाई क्षमताओं को और बढ़ान के लिए प्रतिबद्ध हैं. नाटो की 75वीं वर्षगांठ के अवसर पर आयोजित शिखर सम्मेलन में अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडेन ने दावा किया कि रूस इस युद्ध में पिछड़ रहा है.

F-16 Fighter Jet: Big decision after NATO meeting! F-16 fighter jets sent to Ukraine, America said – Putin will not be able to survive now

F-16 Fighter Jet

F-16 Fighter Jet: Ukraine has been demanding F-16 fighter jets for a long time to respond to Russian attacks. Apart from fighter jets, NATO members have also sent five radar systems to Ukraine.

F-16 Fighter Jet: Amid the ongoing war between Russia and Ukraine, NATO members have announced that they have started sending F-16 fighter jets to Ukraine. After the NATO summit in Washington, US Secretary of State Antony Blinken said on Wednesday (July 10, 2024) that the first consignment of US-made F-16 fighter planes is being sent to Ukraine from Denmark and the Netherlands. He said that very soon the F-16 is going to fly in the skies of Ukraine.

F-16 aircraft will fly in the skies of Ukraine

According to a Reuters report, US Secretary of State Antony Blinken said that Ukraine can effectively protect itself from Russian aggression this summer. Ukraine has long been demanding F-16 fighter jets to respond to attacks from Russia. US President Joe Biden approved the delivery of these aircraft to Ukraine in August 2023.

‘Now NATO’s Ukraine has sent F-16 aircraft’

F-16 Fighter Jet

The US Secretary of State challenged that this fighter jet being sent to Ukraine should be a strong message to Russian President Vladimir Putin. He said, “The Russian President’s attention has become focused on the fact that he will not be able to stay in the war with Ukraine for much longer.” Ukrainian President Volodymyr Zelensky said last week that he wanted to double the capacity of his airforce. Zelensky had said that he would need at least seven more radar systems to protect his country.

NATO members will also send radar systems

NATO members have also announced to send five radar systems to help Ukraine. A statement issued by NATO members said that we are committed to further enhancing Ukraine’s air capabilities. At the summit held on the occasion of NATO’s 75th anniversary, US President Joe Biden claimed that Russia is lagging behind in this war.

द स्टेट न्यूज़ हिंदी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *